सर्च-सीजीसीआरआई

 कर्मचारी खोजें@सीजीसीआरआई 
 नाम:
 (पहला नाम / अंतिम नाम से खोज)    

    Home     सोल-जेल      परिदृष्टि
सोल जेल प्रभाग
     
 
परिदृष्टि
सोल जेल प्रसंस्करण विभिन्न स्वरूपों में काँच एवं सिरामिक द्रव्यों का विस्तृत श्रृंखला के निर्माण हेतु एक सर्वतोन्मुखी तकनीकी है । सीजीसीआरआई, कोलकाता में सोलजेल गतिविधि का पहल वर्ष 1981 में किया गया था । तब से लेकर आज तक, प्लाज्‍मा ग्रेड ऑक्साइड पाउडरों, नैनो पार्टिकलों, सिरामिक फाइबरों, सिरामिक मैट्रिक्स सम्मिश्रों (सीएमसी), एन्टायरइफेक्टिव (एआर) वाले महीन फिल्मों, एन्टीग्लेयर लेजर डैमेज प्रतिरोधक, इलेक्ट्रोक्रोमिक, अल्प उत्सर्जकता एवं प्रकाश-उत्प्रेरक गुणों एवं उच्च शुद्धता सिलिका काँच के विकास से संबंधित विभिन्न गतिविधियों पर कार्य किया गया है । इस क्षेत्र में की गई गतिविधियों के आधार पर इजराइल, फ्रान्स, जर्मनी, इटली, जापान एवं स्लोवेनिया के साथ उच्च स्तरीय अन्तर्राष्ट्रीय सहयोगिता स्थापित की गई है । सोल-जेल एआर अभिलेपित ऑप्थेल्मिक काँच लेंस का व्यापार भारतीय कंपनी द्वारा किया गया है ।

वर्त्तमान में, यह प्रभाग जियोलाइट पाउडरों, गैस वियोजन हेतु झिल्लियों, हाइड्रोफिलिक/स्व परिमार्जन अभिलेपन, ठोस अवस्था रंग लेजर, सेंसर अनुप्रयोग हेतु प्लेनर ऑप्टिकल वैबसाइट तथा ऊर्जा बचत अल्प उत्सर्जकता अभिलेपन के विकास में सक्रिय रूप से संलग्न है । विगत दस वषों से प्रयोगशाला द्वारा विज्ञान जर्नलों में 80 से अधिक अभिलेख प्रकाशित करवाए गए हैं ।

इस प्रभाग के अनुसंधान दल में निम्नलिखित संलग्न हैं : 5(पाँच) वैज्ञानिक, 6(छ) अनुसंधान फेलो एवं 3(तीन) समर्थन कर्मचारी ।








    Updated on: 03-10-2012 10:16 
facebook
twitter
:: Contents of this site © केन्द्रीय कांच एवं सिरामिक अनुसंधान संस्थान (सीजीसीआरआई) ::             :: सर्वश्रेष्ठ स्क्रीन रिज़ॉल्यूशन: 1024x768 ::